Header Ads

Weather Forecast: दिल्ली समेत उत्तर भारत को मिलेगी गर्मी से राहत, चार दिन पहले दस्तक देगा Monsoon

नई दिल्ली। देशभर में बदलते मौसम के मिजाज ( weather update ) के बीच मानसून ( Monsoon ) को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। उत्तर भारत में उमस और भीषण गर्मी से जल्द ही निजात मिलने वाली है। भारतीय मौसम विभाग ( IMD ) की मानें तो दिल्ली-एनसीआर ( Delhi NCR ) में इस बार मानसून तीन से चार दिन पहले ही दस्तक देने जा रहा है। विभाग के मुताबिक 22-23 जून को मानसूनी बारिश ( rainfall alert ) राजधानी और उससे सटे इलाके के लोगों को बड़ी राहत दे सकती है।

ये पूरा हफ्ता देशवासियों के लिए गर्मी में झुलसता हुआ साबित हो रहा है, लेकिन इसी बीच एक ठंडक देने वाली खबर भी आई है। पश्चिम बंगाल और ओडिशा में आए चक्रवाती तूफान ( Cyclonic Storm ) से हवा का रुख 19 -20 जून तक उत्तर-पश्चमी उत्तर प्रदेश की ओर मुड़ जाएगा। वहीं अगले दो से तीन दिन में पंजाब, राजस्थान और हरियाणा में भी बारिश के आसार बने हुए हैं।
बिना हथियार बात करने गए भारतीय जवानों पर जानें कैसे चीनी सैनिकों ने किया हमला, हिंसक झड़प के वो आखिरी पल

334963-rain2.jpg

इस वजह से जल्दी पहुंच रहा मानसून
दरअसल इस बार मानसून अपने तय समय से पहले ही कई इलाकों में दस्तक दे चुका है। केरल, तेलंगाना, महाराष्ट्र के बाद अब उत्तर भारत में समय से पहले मानसून अपनी आमद दर्ज करवा सकता है। इसके पीछे बड़ा कारण पश्चिम बंगाल और ओडिशा में आए चक्रवाती तूफान है। इनकी वजह से हवा का रुख 19 -20 जून तक उत्तर-पश्चमी उत्तर प्रदेश की ओर मुड़ जाएगा।

दिल्ली-एनसीआर में तेज हवाओं के साथ बूंदाबांदी
मौसम विभाग की मानें तो 19 जून को दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी होने के आसार बने हुए हैं। इसके साथ ही 22-23 जून को मानसून अपनी दस्तक दे सकता है।

17918-met.jpg

सामने आई देश की रक्षा के लिए शहीद हुए जवानों के नाम, बिहार रेजिमेंट ने खोए अपने 12 सपूत

इन राज्यों में भी बारिश के आसार
22 -24 जून के बीच पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान और पूर्वी हरियाणा के कुछ हिस्सों में मानसून अपनी उपस्थिति दर्ज करवा सकता है। आपको बात दें कि आईएमडी ने इस वर्ष उत्तर भारत में सामान्य बारिश की भविष्यवाणी की है। यानी इस वर्ष इन इलाकों में करीब 103 फीसदी बारिश दर्ज की जा सकती है।

दक्षिण-पश्चिम मानसून पश्चिम भारत के साथ अब मध्य भारत के ज्यादातर हिस्सों तक पहुंच चुका है, बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक और निम्न दबाव वाला क्षेत्र बनने के कारण दक्षिण-पूर्वी उत्तर प्रदेश पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। इसके चलते अगले कुछ घंटों में यूपी और एमपी के कुछ इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका है।

बिहार के अधिकांश जिलों में बारिस का अलर्ट
बिहार के ज्यादा जिलों में अगले 48 घंटों के दौरान वर्षा की संभावना जताई है। इससे पहले अकेले पटना में पिछले दो दिनों में 27.5 एमएम वर्षा रिकॉर्ड की गई है।

एमपी के 17 जिलों के लिए येलो अलर्ट
मानसून का असर अब मध्यप्रदेश में देखा जा रहा है। यहां के कई जिलों में पिछले कुछ दिनों अच्छी बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने फिलहाल 17 जिलों के लिए यैलो अलर्ट जारी किया है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
Read The Rest:patrika...

No comments

Powered by Blogger.