Header Ads

महाराष्ट्र: कोविड टास्क फोर्स की बैठक में सीएम ठाकरे का फैसला, 25 जिलों में प्रतिबंधों में मिलेगी राहत

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में कोविड टास्क फोर्स की गुरुवार को हुई बैठक में सीएम उद्धव ठाकरे ने राज्य के 25 जिलों में कोरोना प्रतिबंधों में राहत देने का निर्णय लिया है। बैठक के बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि 25 जिलों में प्रतिबंधों में ढील देने का फैसला किया गया है, जहां कोरोना वायरस संक्रमण की दर औसत से कम पाई गई है।

ये भी पढ़ें: विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले, अफगानिस्तान में ताकत के जरिए तय परिणामों को नहीं मानेगा भारत

टोपे के अनुसार बैठक में फैसला लिया गया कि शनिवार को अब कुछ स्थानों पर प्रतिबंधों के साथ अनलॉक रहेगा। मगर रविवार को पूर्व की तरह ही प्रतिबंध रहेगा। स्वास्थ्य मंत्री टोपे के अनुसार राज्य सरकार ऐसे लोगों को लोकल ट्रेन में सफर की इजाजत पर विचार कर रही है, जिन्हें कोरोना वायरस रोधी टीके की दोनों खुराकें लग गई हैं।

लोगों को गुमराह कर रही है भाजपा: एनसीपी

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने गुरुवार को विपक्षी भाजपा पर महाराष्ट्र के लिए बाढ़ राहत पैकेज को लेकर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया। सीएम उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार में सहयोगी दल एनसीपी के मुख्य प्रवक्ता महेश तापसे ने एक बयान में आरोप लगाया कि भाजपा राहत पैकेज को लेकर लोगों को गुमराह करने में लगी है।

ये भी पढ़ें: NEP 2020: भविष्य की शिक्षा से तय होगा, हम कितना आगे जाएंगे - पीएम मोदी

तापसे के अनुसार केंद्रीय कृषि मंत्री ने 701 करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान करा था। मगर यह 2020 में बाढ़ प्रभावित लोगों (महाराष्ट्र में) के लिए है। इसका मतलब है कि केंद्र ने लगभग एक साल बाद राहत राशि को दिया है। उनका कहना है कि भाजपा लोगों को गुमराह कर रही है कि सहायता उन लोगों के लिए है जो बीते सप्ताह बाढ़ से प्रभावित हुए थे। इसका मतलब है कि कुल 3701 करोड़ रुपये की राहत राशि में से केंद्र ने 701 करोड़ रुपये को ही मंजूरी दी है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
Read The Rest:patrika...

No comments

Powered by Blogger.