Header Ads

सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में ऑक्सीजन व दवाओं के वितरण के लिए राष्ट्रीय टास्क फोर्स का किया गठन

नई दिल्ली। देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन वे बेड्स के साथ-साथ जरुरी दवाओं की कमी से हाहाकार मचा है। केंद्र सरकार व तमाम राज्य सरकारों की ओर से स्थिति को संभालने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद भी स्थितियां खराब होती जा रही है। ऐसे में अब सुप्रीम कोर्ट ने इस पूरे मामले में दखल दिया है और देशभर में ऑक्सीजन व दवाओं की कमी को लेकर शनिवार को एक राष्ट्रीय टास्क फोर्स का गठन किया है।

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को एक बड़ा एक्शन लेते हुए देशभर में ऑक्सीजन और दवाओं के वितरण के को लेकर टास्क फोर्स बनाई है। ये टास्क फोर्स राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को ऑक्सीजन और दवाओं के वितरण की जिम्मेदारी संभालेगी।

यह भी पढ़ें:- फिच सॉल्यूशंस का बड़ा बयान, चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को हासिल करने से चूक सकता है भारत

आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अधिकतर राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन व जरूरी दवाओं के साथ बेड्स नहीं मिल पा रहे हैं। चारों ओर हाहाकार मचा है। अब तक 100 से अधिक कोरोना मरीजों की जान जा चुकी है। लिहाजा, पिछले कई दिनों से सुप्रीम कोर्ट पूरे मामले पर नजर बनाए हुए था। अब सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला लेते हुए राज्यों में ऑक्सीजन और जरुरी दवाओं के आवंटन के लिए 12 सदस्यीय राष्ट्रीय टास्क फोर्स का गठन किया है।

सरकार ने कोविड मरीजों केे लिए नियमों में किया संशोधन

आपको बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को एक बड़ा फैसला लेते हुए संदिग्ध कोरोना मरीजों को अस्पताल में भर्ती किए जाने के नियमों में बदलाव किया है। अब कोविड सेंटर में भर्ती होने के लिए मरीजों को पॉजिटिव रिपोर्ट दिखाना जरूरी नहीं होगा। अब कोई भी संदिग्ध मरीज कोविड सेंटर में भर्ती हो सकेंगा। उन्हें संदिग्ध मरीजों के वार्ड में रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें :- संदिग्ध कोरोना मरीज अस्पताल में हो सकते हैं भर्ती, सरकार ने नियमों में किया बदलाव

इसके अलावा सरकार ने एक ओर बड़ा फैसला लेते हुए कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे अस्पताल, डिस्पेंसरी और कोविड केयर सेंटर्स को बड़ी राहत दी है। नए आदेश के अनुसार, ये तमाम स्वास्थ्य सेंटर दो लाख रुपए से ज्यादा की पेमेंट कैश ले सकेंगे। केंद्र सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है। यह छूट 31 मई तक रहेगी।

मालूम हो कि बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 4 लाख 1 हजार 228 नए संक्रमित मिले हैं, वहीं 4,191 लोगों की मौत हुई है। इस महामारी से एक दिन में जान गंवाने वालों का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसके साथ ही संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर अब 2,18,92,676 हो गई है। जबकि इसी समयावधि में 4,187 लोगों की मौत हुई है, जिसके बाद देश में मरने वालों की संख्या 2,38,270 हो गई है। वर्तमान में भारत में 37,23,446 सक्रिय कोरोना संक्रमितों की संख्या है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
Read The Rest:patrika...

No comments

Powered by Blogger.